अनजान लड़के ने मेरी गांड फाड़ दी – CUDAI KI KAHANI | SEXY HOT STORY 2021

अनजान लड़के ने मेरी गांड फाड़ दी – CUDAI KI KAHANI

हैलो दोस्तो मेरा नाम नाज़िया है और मैं दिल्ली की रहने वाली हूँ.. मुझे हिंदी सेक्स स्टोरीज कहानियाँ पढ़ना बहुत अच्छा लगता है। मैं अपनी कॉलोनी की सबसे हॉट और सेक्सी लड़की हूँ  CUDAI KI KAHANI

आज मैं आपके सामने अपनी चुत चुदाई की सच्ची कहानी प्रस्तुत कर रही हूं यह मेरी पहली कहानी है जो एकदम सच्ची घटना है बात तब की है जब मैं 12 वी कक्षा का एग्ज़ाम दे रही थीं वैसे तो मैं सिर्फ 17 साल की लड़की थीं पर मेरा शरीर किसी 22 साल की औरत जेसा था 

मेरे चुचे बड़े और चुतड़ गोल मटोल थे और जब मै स्कूल जाती थीं तो बहुत से लोग मुझे घुरते और मुझ पर लाईन मारते मुझे भी अच्छा लगता और मैं भी खुब गांड मटकाती हुईं चलने लगती।

उस दिन मैं अपने घर पर गणित के पेपर की तैयारी कर रही थी कि मेरे गांव से फ़ोन आया कि मेरी दादी का ऐक्सीडेंट हो गया है और वो हॉस्पिटल में है तो मेरे माता पिता और मेरा भाई तो गांव के लिए रवाना हो गये

अनजान लड़के ने मेरी गांड फाड़ दी - CUDAI KI KAHANI | HOT STORY 2021
porn stories in hindi language

पर मेरा ऐग्जाम होने के कारण मैं अपने घर पर अकेली ही थी तो मुझे भी कुछ मस्ती करने का मौका मिल गया और मेने अपनी सहेली माया को अपने घर पर बुला लिया। माया थोड़ी बिंदास और आवारा टाईप की लड़की है जो कि किसी को भी पटा कर अपना काम करवा लिया करती है ।

उस शाम हम दोनों बाजार घूमने के लिए रवाना हो गई भीड़-भाड़ वाले इलाके के बिच एक लड़के ने मेरा चूचा दबा दिया मै एकदम चौंक गई पर भीड़-भाड़ में किसी को भी कुछपता नही चला अक्सर लोग भीड़-भाड़ का मौका देखकर कभी चुचे तो कोई चुतड़ छू लेते है

तो मुझे भी कुछ ज्यादा बुरा न लगा और मैं फ़िर से सामान खरीदने में लग गई पर इस बार वो मेरी गांड पर हाथ फेरते हुए पास से निकल गया पर मुझे कोई आपत्ति नहीं करते देख उसकी हिम्मत बढ़ गई और वो मेरे शरीर से चिपक कर खड़ा हो गया CUDAI KI KAHANI

और मेरी टाँगों पर हाथ फेरना शुरू कर दिया मै घबरा गई और माया को बताया की कैसे वह लडक़ा मुझें छेड़ रहा है

तो उसने उसको ड़ाटने के बजाय एक स्माईल दे दी और लगे रहो और मज़े करो कहतीं हुईं दूर हट गई इससे उसकी हिम्मत ज्यादा बढ़ गई और वो अपना हाथ मेरी कुर्ती में डालकर मेरा पेट सहलाने लगा

मेरे तो पूरे बदन में आग लग गई मुझे भी कुछ मस्ती चढ़ने लगीं और मैंने उसका लौड़ा पेंट के ऊपर से ही पकड़ लिया और उसे सहलाने लगी ये सब देख मेरी सहेली ने हमें टोका सारी मस्ती यहीं पर करोगी क्या ?

मैंने उसे खुद से अलग किया और अपनी सहेली को साथ लेकर उस लड़के के साथ अपने घर पर आ गई ।

फिल्म देखते हुए भी वो मेरे शरीर से खेल रहा था और मेरा भी मस्ती करने का मूड बन गया यह देख माया दूसरे कमरे में चली गई और उसके जाते हीं उस लड़के ने मेरे शरीर पर चूमना शूरू कर दिया

मेरा कोई अंग ऐसा नहीं था जिस पर उसने किस न किया हो मुझे तो अब सही गलत का हौश ही नहीं था बस चुदाई की हवस चढ़ी थी तो मैंने भी अपनी कुर्ती उतार कर फेंक दी और उसका साथ देने लगी

उसने मेरी लेगी भी उतार दी मै सिर्फ काली ब्रा और गुलाबी पेंटी में थी जिसमें में किसी से भी कम न लग रही थीं 

उसने अपनी पेंट की जिप खोलीं और अपना 8 इंच का लौड़ा मेरे मुहँ के आगे कर दिया मेरी तो आँखे फटी की फटी रह गई बाप रे बाप इतना बड़ा ये इन्सान का हैं या घोड़ा का।

उसके लण्ड पे चमडी चढ़ी हूई थी मेने अपने हाथों से उसकी लौडे की चमडी हटायी और उसे मुह में लेकर चूसना शुरू कर दिया 

मुझे बहुत अच्छा लग रहा था जैसे कि आज मुझे अपनी फेवरिट कुल्फ़ी मिल गई है मै मजे ले लेकर चूस रही थी और वो भी मेरा मुह चोद रहा था CUDAI KI KAHANI

जैसे कि वो मेरी चुत हो और मुझे अपने गले तक उसका लौड़ा महसूस हो रहा था कि अचानक उसके मुँह से एक आह निकली और वो मेरे मुँह में ही झड़ गया 

और मेरा मुँह अपने माल से भर दिया उसका माल बहुत टेस्टी था तो मैं भी पुरा पी गई और चाट चाट कर उसका लौड़ा भी साफ़ कर दिया ।

उसने अपने पूरे कपड़े उतार दिये और मेरी ब्रा भी उतार दी अब मेरे शरीर पर सिर्फ पेंटी बाकी थी उसने अपने दोनों हाथों से मेरे चुचे सहलाने शूरू कर दिये वो बारी बारी से मेरे दोनों चुचे को चूसने लगा 

मेरे चुचे कड़क होकर खड़े हो गये उसने मेरी चुचियाँ पकड़ कर मसलने लगा और मैं मस्त होकर सिस्कारीयाँ भरने लगी मेरी पेंटी गीली हो गई थी उसने मेरी पेंटी को भी नीचे खींच लिया

और मुझे पूरी तरह से नंगी कर दिया उसका लौड़ा फिर से खड़ा होकर सलामी दे रहा था

उसने मुझे उठा कर बिस्तर पर लेटा दिया और मेरी टाँगे चौड़ी कर दी फिर अपना मुँह मेरी चुत से लगाकर मेरी चुत को चूसनेे लगा उसकी जुबान मेरी चुत में खलबली मचा रही थी CUDAI KI KAHANI

और मेरी चुत में गुदगुदी हो रही थी मुझे आज तक इतना मज़ा कभी नहीं आया था मैं उसका मुँह अपनी चुत पर दबा रही थी अचानक मेरा शरीर ऐठने लगा और मेरी चुत से रसधार छुट गई और उसने सारा चुतरस पी लिया ।

उसने मेरी टाँगे उठा कर अपने कन्धों पर रख दी और अपना लौड़ा मेरी चुत पर टिका दिया मेने भी अपनी टाँगे पूरी चौड़ी कर दी और उसे चोदने का इशारा किया 

उसने मेरी चुत पर अपना लौड़ा टिकाया शुरू  मुझे अपनी चुत पर उसके लौड़े का दबाव महसूस हो रहा था तभी उसने एक जोरदार झटका लगाया और उसका लौड़ा मेरी चुत फाड़ता हूआ अन्दर घुस गया 

मेरी सील टूट गई और मेरी चुत से खुन निकलने लगा मै घबरा गई और दर्द से चिल्लाते हुए खुद को छुड़ाने की कोशिश करने लगी 

पर उसने मुझे अपनी औरों खींच लिया और मुझे अपनी बाँहो में भर लिया और मुझे कस के पकड़ लिया ताकि मैं छुट न सकूं 

आखिरकार मेने हार मान लि और उसने मुझे होठों पर किस करना शूरू कर दिया और धीरे-धीरे मेरा दर्द भी कुछ कम हो गया और मुझे भी अच्छा लगने लगा CUDAI KI KAHANI

और मैं भी गांड उठा उठाकर उसका साथ देने लगी तो उसने अपनी स्पीड बढ़ा दी और जोर जोर से शॉट लगाने लगा हर एक शॉट में उसका लौड़ा मेरी पूरी चुत में गहराई तक उतर जाता और मैं भी टाँगे ऊंची उठा कर अपनी चुदाई का पूरा मज़ा ले रही थीं

पूरा कमरे में मेरी सिसकियाँ गूँज रही थीं मेरे मुँह से आ आह आईई आईईसी ऊऊई माँ अरे मर गई रे फाड़ ड़ाली मेरी माँ चोद ड़ाली मेरी रे आह आआह आआऊऊईई ।CUDAI KI KAHANI

तो वो और भी जोश के साथ मेरी चुदाई करने लगा और मुझे गालियां देने लगा “। ले मेरा लौड़ा ले । मादरचोद साली आज तेरी चुत फाड़ दूँगा साली रन्डी बहुत गर्मी है तेरी चुत में साली

आज सारी गर्मी निकाल दूँगा तेरी चुत का आज तो भौसड़ा बना दूँगा रांड । 

मुझे भी चुदते हुये गालियां देने से मज़ा आ रहा था मैंने भी चोद साले भड़वे बना दे मेरी चुत का भौसड़ा बना साले हरामी मादरचोद 

उसे गालियां बकने लगी उसने मेरी गांड पर चपट लगाई और मुझे गालियां देते हुए हचक के चोदने लगा 

मैं उसके लौड़े के आगे ज्यादा देर टिक नहीं पाई और मेरी चुत पानी छोड़ने लगी और मैं झड़ गई पर वो अभी भी टिका हुआ था CUDAI KI KAHANI

और मेरी चुत की गहराई तक चुदाई कर रहा था अचानक उसने अपना लौड़ा मेरी चुत से बाहर निकाल लिया और मुझे घुमाकर कुतिया बना दिया और अब वो मेरी चुत में पीछे से घमासान चुदाई करने लगा।

मुझे भी बहुत मज़ा आ रहा था वेसे भी डॉगी स्टाइल में चुदाई में मुझे बहुत मज़ा आता है वो मेरी चुत पर गोचे पे गोचे लगा रहा था और हर झटके के साथ मेरा मज़ा दुगुना हो जाता मेरी इतनी जोरदार तरीके से चुदाई हो रही थी की मेरा पूरा पलंग हिलने लगा था । CUDAI KI KAHANI

आज तो पलंग तोड़ चुदाई का मेरी इच्छा पूरी हो गयी थी और मेरा पूरा शरीर फ़िर ऐठने लगा और वो भी अपने पूरे चरम पर था अचानक उसके झटकों की स्पीड़ बढ़ गई CUDAI KI KAHANI

उसका भी बदन ऐठ्ने लगा शायद वो भी झड़ने वाला था और कुछ जोरदार झटकों के बाद हम दोनों साथ में झड़ गये । 

उसने अपना लौड़ा मेरी चुत से बाहर निकाल लिया और मेरे पास चिपक कर लेट गया ।

मैं उठकर बाथरूम गई और अपने शरीर को साफ़ किया ।

मेरे पूरे शरीर पर काटने के निशान मेरी जबरदस्त चुदाई की गवाही दे रहे थे मेरी चुत फट गई थी ।

मैं फिर कमरे में जाकर उसके पास बिस्तर पर लेट गई थकान के कारण मुझे जल्दी ही नींद आ गई और मैं सो गयी ।

रात को जब मेरी नींद खुली तो वो लडक़ा कमरे में नहीं था मुझे लगा वो चला गया है तो मैं वापस सोने लगी तभी मुझे पड़ोस के कमरे जिसमे मेरी सहेली माया सो रही थीं CUDAI KI KAHANI

वहा से कुछ आवाज़ सुनाई दी मैंने ध्यान से सुना तो वो आवाज़ मेरी सहेली की सिसकियाँ गूँज रही थीं उस कमरे में कोई मेरी सहेली की जबरदस्त चुदाई कर रहा है

तो मैं चुपचाप उठी और उस कमरे के पास जाकर उसमें झाँक कर देखा तो मेरी आँखे फटी रह गयीं वो लडक़ा लेटा हूआ था और मेरी सहेली उस के ऊपर चढ़ कर कूद कूद कर अपनी चुत चुदवा रही थीं । CUDAI KI KAHANI

मैं भी कमरे में चली गई और उनसे पूछा कि क्या हो रहा है तो वो थोड़े घबरा गये पर मैं मुस्करा दी और उनका साथ देने लगी वो भी फिर अपने चुदाई प्रोग्राम में लग गये

मेरी सहेली उसके ऊपर कूद कूद कर अपनी चुत चुदवा रही थी और मैं उसके रसीले होंठों का रस पी रही थीं उसके मम्मे दबा रही थीं CUDAI KI KAHANI

इस तरह उसका मज़ा डबल हो गया और वो मज़े से चिल्लाते हुए चुदवाने लगी तभी उस लड़के ने माया की चुत से लण्ड बाहर निकाल लिया और मुझे चूसने का इशारा किया तो मैं भी घुटने टेक के बैठ गई और उसका लण्ड चूसना शुरू कर दिया

मुझे लण्ड चूसना बहुत अच्छा लग रहा था मैंने चुस चुस कर उसका लण्ड गीला कर दिया फिर उसने माया की चुत बजानी शुरू कर दी और मैंने उसके बाहर लटक रहे आण्ड़ चूसना शुरू कर दिया

तभी उसने अपना लण्ड माया की चुत से बाहर निकाल लिया और मेरे पीछे आकर अपना लण्ड मेरे चुतडौ पर रगड़ने लगा मुझे भी मस्ती चढ़ने लगी और मैं माया की चुत चाटने लगी वो भी मज़े में चुत चटवा रही थीं…. CUDAI KI KAHANI

इसी बीच उस लड़के ने मेरी गांड को पकड़ कर चौड़ी कर दी और गांड चाटने लगा मैं मस्ती में झूम उठीं और अपना मुँह माया की चुत पर दबा दिया उसने भी चाट चाट कर मेरी गांड गीली कर दी फिर अपना लण्ड मेरी गांड पर दबा कर एक जोरदार झटका लगा दिया

उसका लण्ड का टोपा मेरी गांड के अन्दर घुस गया मेरी तो चीख निकल गई । आह मर गई । मार ड़ाला हरामी ने । फाड़ ड़ाली मेरी मादरचोद । CUDAI KI KAHANI

गांड फाड़ दी भौसड़ीवाले ने पर उस ने मुझे नहीं छोड़ा बल्कि एक और जोरदार झटका लगा कर बाकी लण्ड भी मेरी गांड में घुसेड़ दिया और मेरी गांड पर एक के बाद एक शॉट लगाने लगा ।

धीरे-धीरे मुझे भी दर्द कम होने लगा और मैं भी गांड उठा उठा कर उसका साथ देने लगी अब वो पूरे ज़ोश के साथ मेरी गांड मार रहा था और मैं भी मज़े से आआऊऊईई आह्ह आह्ह्ह मार मेरे राजा ओर ज़ोर से मार ।

फाड़ डाल मेरी गांड । ऐसे ही चोद मुझे आह्हह्ह रन्डी बना के चोद मुझे । आईईएउउउ चो चोद मुझे । मुझे भी गांड मारवाने में मज़ा आ रहा था । CUDAI KI KAHANI

मैं माया की चुत को अपने मुँह से चुस चुस कर चोद रही थीं और वो लडक़ा मेरीगांड चोद रहा था तभी माया की चुत पानी छोड़ने लगी

और वो झड़ गई थोड़ी देर बाद वो लडक़ा मेरी गांड में छुट गया और झड़ कर अलग हो गया मैं भी पूरी तरह संतुष्ट हो गई थी ।

हम तीनों साथ में बाथरूम गये और एक दूसरे को नहला कर अच्छी तरह साफ़ किया और वापस आकर साथ में ही सो गये ।

उस पूरी रात वो लडक़ा मेरे घर पर ही रुका और पूरी रात उसने मेरी और माया की कई बार चुदाई की और साथ में मेरी गांड भी मारी ।

गांड मारवाने में बहुत दर्द हुआ पर अच्छा भी बहुत लगा अब जब भी मेरी चुदाई करवाती हूँ तो गांड जरुर मारवाती हूँ तो दोस्तों आपकों मेरी चुदाई की यह सच्ची घटना कैसी लगीं मुझें कमेन्ट करके जरुर बताएँ । CUDAI KI KAHANI

Leave a Comment