Aunty Sex Story | चोदा और बाँहों में लपेट लिया | Latest Sexy Story 2021

Aunty Sex Story | चोदा और बाँहों में लपेट लिया

ये कहानी है एक आंटी की.. जो मेरे बगल वाले घर में रहती थी। वह थोड़ी बूढ़ी भी थी… लेकिन बोलने में सहज थी। उनका एक बेटा भी था। वह यहां काम करती थी और उसका पति दूसरे शहर में काम करता था। मैं उनसे अच्छी तरह बात करता था और किसी न किसी कारण से मेरा आना-जाना लगा रहता था।

एक दिन उनके बेटे की तबीयत थोड़ी खराब हुई और उन्होंने मुझे फोन किया, डॉक्टर को बुलाने को कहा।
मैंने भी तुरंत उसकी मदद की और डॉक्टर को लेकर आया। डॉक्टर ने कहा- बुखार थोड़ा तेज है.. और किसी को रात भर उसके साथ रहना होगा। Aunty Sex Story

मैंने उसके पति को भी सूचित किया.. लेकिन वह व्यस्त था.. इसलिए एक दिन बाद आने वाला था।

aunty sex story

डॉक्टर चला गया.. उसने कुछ दवाइयाँ खरीदने के लिए दीं जो मैं मेडिकल स्टोर पर गया और जब मैं लौटा तो देखा कि आंटी ही मुझे बुला रही थीं और रो रही थीं।

उसने मुझे बताया कि उसका बेटा चक्कर आने की वजह से बाथरूम में गिर गया था. हम दोनों ने उसे वापस बिस्तर पर लिटा दिया और दवा देकर सुला दिया।
आंटी बेडरूम में चली गईं।
मैंने उन्हें फोन किया.. क्योंकि मुझे उन्हें दवा के बारे में भी बताना था। Aunty Sex Story


लेकिन वह नहीं आई।
मैंने अंदर जाकर देखा तो देखा कि वह दीवार से सिसक रही है और रो रही है।
मैंने उन्हें समझाते हुए कहा- मैं हूं ,कुछ नही होगा ।
मुझे समझ नहीं आ रहा था कि उन्हें रोने से कैसे रोकूं, मैंने उनका हाथ थामते हुए कहा- आंटी.. प्लीज.. तुम रो नहीं.. अब तुम्हें अपना ख्याल रखना है।

इतना कहते ही वो मेरी बाँहों में रोने लगी.. कहने लगी- काश मेरे पति हम पर ध्यान दें और मुझे अपना बना लें..
मैं उसे समझाते हुए उसकी पीठ सहलाने लगा.. मेरा कोई गलत इरादा नहीं था.. लेकिन मुझे पता है कि मैं उसे और उसने मुझे क्यों कसना शुरू कर दिया..
दोनों के बीच कोई दूरी नहीं थी।

मैं एक बार नीचे देखा और उसके होठों को चूम लिया। हम दोनों एक दूसरे की तरफ देखने से हिचकिचा रहे थे.. लेकिन कोई किसी को नहीं रोक रहा था. Aunty Sex Story


मैं फिर से उसे देखा और इस बार उसके होंठो में होठ डालकर चूसने लगा और उसे उसकी जीभ के साथ चाटना शुरू कर दिया। आंटी ने भी मुझे चूमना शुरू कर दिया।
मैं उसे कमर से पकड़ा और उसे दीवार से लगाया और चूसना शुरू किया,

उसका भी पल्लू नीचे गिर गया और मैं गर्दन पर उसे चूमा, मैं उसकी ब्लाउज की दरार में चूम रहा था वो सिसकने लगी
मैं उनकी दोनों ममियों को उसके ब्लाउज पर हाथ से सहलाते हुए उनकी दूध की घाटी को चाट रही थी।
मैं झुका ओर कसकर उसका पेट चूमा उसकी नाभि में अपनी जीभ डालने लगा। Aunty Sex Story

aunty ki sex kahani

मैन उसके ब्लाउज का हुक खोला और उसे चूमने शुरू कर दिया। उसने ब्रा नहीं पहनी हुई थी.. इसलिए उसके मम्मे को अपने मुंह से रगड़ने लगा।

मैंने ब्लाउज उतार दिया, एक निप्पल को अपने मुँह में चूस रहा था और दूसरी दूध को रगड़ने लगा। वो दीवार के बगल में खड़ी थी और मैं उसकी गांड पकड़ कर बारी-बारी से दोनों चूचो को चूस रहा था। Aunty Sex Story

मैंने झट से उसकी सारी साड़ी खोल दी.. पेटीकोट की गाँठ को अपने दाँतों से खोला और वह नीचे गिर पड़ा।
मैं उसके पैंटी ऊपर से नीचे तक चाट रहा था । जीभ के साथ चूमना शुरू कर दिया, जाँघिया गीला कर दी।

उसने मेरे बालों को सहलाया और मेरा सिर दबाने लगी।
मैं पैंटी हटाने की कोशिश कर रहा था .. लेकिन वह बंद कर दिया,
हमने बाहों में एक दूसरे को ले लिया और बेसब्री से चूमने शुरू कर दिया। उसने मुझे दीवार से सटाते हुए मेरी छाती पर हल्के से काटा। फिर मुझे कंधे पर काटा और फिर लिप टू लिप मिलाया।


मैं उसे कसकर पकड़ा और उसे बिस्तर की ओर का नेतृत्व किया, हम दोनों बिस्तर पर गिर गए और गले में कस कर एक दूसरे को चूमना शुरू कर दिया। Aunty Sex Story
बार-बार.. लगातार.. कभी उसके होठों में मेरी जीभ, कभी उसकी जीभ मेरे होठों में आनंद ले रही थी।

मैं अपने जाँघिया दूर ले गया, उसकी फैले पैर बिस्तर के नीचे थे, मैं बिस्तर के नीचे बैठ गया और नीचे से उसके पैर चूमने शुरू किए .. ऊपर से नीचे तक उसके पैरों चाटना शुरू कर दिया।
अचानक मैं उसकी जांघ हल्के से काटा और जिभ चूत की ओर बढाने लगा, उसकी चूत पर होंठ लगया ओर उसकी चूत चाटना शरू कर दिया

aunty ki chudai

वह ‘आह..’ भरते हुए मेरे सिर को चूत में दबाने लगी, उसके पैर मेरे कंधों पर कसने लगे।
मैं चूत पर थूकता और थूक फैलाते हुए जीभ को चूत में दबाता

उसका दम घुट गया लेकिन उसने मेरे सिर को टांगों के बीच दबाना शुरू कर दिया, मैंने चूत के दाने को हिलाते हुए जीभ को चूत में अंदर-बाहर करना शुरू कर दिया। Aunty Sex Story

चूत बहुत गीली हो रही थी और उन्होंने अचानक से अपना रस मेरे पैरों पर कस कर छोड़ दिया, कुछ पल मुझे पकड़े रहे.. फिर वह बिस्तर पर उठकर बैठ गई।

मैं उसके सामने खड़ा था। उसने मेरी तरफ देखा, मेरी पैंट का हुक खोल दिया, ज़िप खोली और मेरा लंड निकाल लिया।
मैंने लन्ड को हिलाते हुए उसके होठों पर रख दिया.. और मसलने लगा।
उसने अपने होंठ खोले.. जीभ बाहर निकली और लौडे का केप चूसने लगी।

मुझे एक हाथ से लंड हिलाता देख वो लंड चाटने लगी. मैंने उसके पीछे से उसके हाथ पकड़ रखे थे.. लनद उसके मुँह में था। अब मैं उसके मुँह से लंड को अंदर-बाहर करने लगा.. कभी तेज़.. कभी आराम से.. अपनी जीभ मुँह में मलते हुए लन्ड अंदर-बाहर हो रहा था।
अब हम दोनों होश में नहीं थे। Aunty Sex Story

वह ऊपर से नीचे तक लनद चाटने लगी और मेरे आंड जोर-जोर से चाटने लगी। फिर अचानक मुँह से लंड चूसने लगी

aunty fucking pic

मेरी सांसे तेज हो रही थी, लनद उसके थूक से पूरी तरह भीगा हुआ था, उसके चूसने से लन्ड का पानी बाहर आने को बेताब हो रहा था, मैंने उसे इशारा किया.. और उसने अपनी जीभ बाहर निकाल ली, मेरा सारा सामान बाहर आने के लिए उसकी जीभ पर महसूस किया।
मुझे देख उसने सारा माल पी लिया और फिर लन्ड साफ करने लगी। Aunty Sex Story

हम दोनों का एक एक बार झड़ गया था.. लेकिन दोनों संतुष्ट नहीं थे।
मैं उसे बिस्तर पर प्यार से रखा और मेरी बाहों में उसे ले लिया और चूमने शुरू कर दिया।
मैंने उससे पूछा- तुमने कितने दिन से सेक्स नहीं किया?
उसका जवाब मिला- उसे सेक्स नहीं इंटिमेसी चाहिए..अपनापन चाहिए.. बहुत दिनों बाद आज वो एहसास हुआ..

यह कह, वह मुझे उसके होंठ के साथ चूमा और मेरी उंगलियों के साथ मेरे शरीर चूमने शुरू कर दिया, मेरे सीने पर मुझे चूमा, शरीर के लिए शरीर से मेरा शरीर मला और मुझे फिर से नशे में धुत्त कर दिया।
हम एक दूसरे से चिपक कर रहे थे .. तो मैं उन्हें उल्टा बिस्तर पर नीचे रखा और उनके ऊपर आ गया, उनकी पीठ चूमना शुरू कर दिया, उनके पीछे उनके हाथ डालने और दबाने के लिए उन्हें, उसने भी मजा लेना शुरू कर दिया ‘आह ..’।

मैंने जीभ से नीचे से ऊपर तक चाट ओर उसकी पीठ काट दी Aunty Sex Story
उसने मेरे कान में कुछ कहा.. मुझे थोड़ा अजीब लगा.. लेकिन मैंने सोचा कि मैं इसे आंटी की खातिर करूंगा।

मैं उसकी पीठ चूमा और नीचे जा रहा .. कमर से नीचे जाके उसकी गाँड़ के बीच म मुह डाला .. और उसे हर जगह चूमने शुरू कर दिया। गाँड़ को हाथ से फैला कर उसमें जीभ डालकर छेद को चाटने लगा।
वोबमेरे सिर को अपनी गाँड़ पर जोर से दबा रही थी।जीभ धीरे-धीरे छेद के अंदर जाने लगी और मैं उसकी गांड को मजे से चाटने लगा।

उसकी घबराहट से ही पता चल रहा था कि उसे यह सब कितना पसंद है।
मैं पूरी अंदर तक अपनी जीभ डाल रहा था, Aunty Sex Story

हम दोनों उत्साहित हो गए और kiss करना शुरू कर दिया ।
फिर मैंने लंड को उसकी टांगों के बीच रख दिया.. मैंने उसकी चूत को मसलना शुरू किया और सुपारी को अंदर धकेल दिया।
वो तेज़ तेज़ सिसकने लगी. मैं उनके ऊपर आ गया.. कमर से पकड़कर लंड को पूरी तरह से अंदर बाहर करने लगा.

लंड चूत चोद रहा था और उसके चूचे जोर जोर से हिल रहे थे
उन्हें कुछ देर ऐसे ही चोदा और जोर-जोर से उनके बाल खींचने के बाद मैं उन्हें कुतिया की तरह चोदने लगा.. वह भी पूरा साथ दे रही थी।

तब मैं लन्ड बाहर ले गए और उन्हें पागलों की तरह चूमना शुरू कर दिया और चूचे काटने शुरू कर दिया, मैन अपने सिर का उपयोग करके दूध को चूसने लगा और अचानक मैं उसे पकड़ लिया और उसे फिर से चूत में पूरा लन्ड डाल दिया.. वह एक साथ जोर से चिल्लायी ।
उसके होठों पर मेरे हाथ रखते हुए, मैम उसे चोदना शुरू किया Aunty Sex Story


मैंने उन्हें यह कहते हुए लन्ड निकाला..उसने अपने हाथ से लंड को चूत पर रख दिया और कहा- चलो.. मैं इस एहसास को कभी नहीं भूलूंगा।
मैंने लंड को अंदर डाल कर उन्हें थोड़ा और चोदा और बाँहों में लपेट लिया और उनकी चूत में अपना रस निकाल लिया।
हम दोनों ने एक दूसरे को बहुत कसकर गले लगाया ।

सुबह जब आँख खुली तो हम भी उसी में लिपटे हुए थे..
मैं उठने लगा.. फिर उसकी आँखें खुली..
मैं फिर से उसके होठों पर उसे चूमा और वह उसी जुनून के साथ मेरे होठों को चूम लिया।
मैं तैयार होकर वहां से एक बार उनके बेटे से मिलने गया। Aunty Sex Story

कुछ दिनों के बाद आंटी यहाँ से कहीं और ट्रांसफर हो गईं.. हमारे बीच जो कुछ भी हुआ वह अंतरंगता और प्यार की भावना थी।

Leave a Comment